Sale!

Anmol Rishte

129

Author: Aarti Mittal | अनमोल रिश्ते कुछ ऐसी कहानियों का संग्रह है जो भावनात्मक हैं और रिश्तों के अलग परिवेश में भिन्न -भिन्न रिश्तों को दर्शाती हैं | रिश्ते मानवीय भावनाओं का प्रतीक होते हैं | कुछ रिश्ते ख़ून के होते हैं और कुछ भावनाओ की मिट्टी से पनपते हैं | कभी भावनाओं से उपजे रिश्ते ख़ून के रिश्तों से भी ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाते हैं |

Purchase this book and get 25 Points -  worth 25
Categories: , , , ,

Description

अनमोल रिश्ते कुछ ऐसी कहानियों का संग्रह है जो भावनात्मक हैं और रिश्तों के अलग परिवेश में भिन्न -भिन्न रिश्तों को दर्शाती हैं | रिश्ते मानवीय भावनाओं का प्रतीक होते हैं | कुछ रिश्ते ख़ून के होते हैं और कुछ भावनाओ की मिट्टी से पनपते हैं | कभी भावनाओं से उपजे रिश्ते ख़ून के रिश्तों से भी ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाते हैं | वास्तव में रिश्तों का कोई दायरा नहीं होता पर हर रिश्ते की नींव प्रेम और विश्वास हो तभी वो रिश्ता टिका रहता है | रिश्तों में नित नवीन ऊर्जा का संचार कर उसमे नयी स्फूर्ति भरने के लिए एहसास का होना जरुरी है | रोज़ हम आसपास कई रिश्तों को पनपते या टूटते हुए देखते हैं | ऐसी ही कुछ सत्य और मर्मस्पर्शी घटनाएँ जब मैं सुनती या देखती तो मस्तिष्क काल्पनिक उड़ाने भरने लगता और कई कहानियाँ बना लेता |

उन्हीं को माँ सरस्वती की कृपा से, क़लम की स्याही से पन्नों पर पुनः जीवंत करने का प्रयास है मेरी यह पुस्तक | कहानियों में इन्द्रधनुष की भाँति तरह-तरह के रंग होते हैं जो अलग-अलग छटा बिखेरते हुए अलग -अलग पड़ावों से गुजरते हुए हमारे अंतर्मन में गहरा प्रभाव छोड़ जाती हैं | मैं कृतज्ञता ज्ञापित करती हूँ डॉ  पूनम बत्रा, मनीषा यादव ‘मनी’, मीनाक्षी जैन का जिनके सानिध्य ने  मुझे लिखने के लिए न केवल प्रेरित किया अपितु मेरा मार्गदर्शन भी किया |

Product Details

ISBN: 978-93-90447-15-2
Size: 5×8
Format: Paperback
Pages: 154
Language: Hindi
Genre: Fiction | Poetry
Mrp: ₹239

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Anmol Rishte”

Your email address will not be published.