Sale!

Mimansa – 2

279

By: Realm of Poems – ‘रेल्म ऑफ पोयम्स’ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त एक साहित्यिक समूह है। ‘मींमांसा’, इस समूह द्वारा नियोजित काव्य-संग्रहों की श्रृंखला में दूसरा संकलन है, जिसमें विश्व प्रसिद्ध साहित्यिक विद्वानों की रचनाएं सम्मिलित हैं। यह समूह समग्र रूप से साहित्य और विशेषतः काव्यशास्त्र के प्रचार के लिए समर्पित है।

Purchase this book and get 55 Points -  worth 55
Categories: , ,

Description

‘रेल्म ऑफ पोयम्स’ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त एक साहित्यिक समूह है। ‘मींमांसा’, इस समूह द्वारा नियोजित काव्य-संग्रहों की श्रृंखला में दूसरा संकलन है, जिसमें विश्व प्रसिद्ध साहित्यिक विद्वानों की रचनाएं सम्मिलित हैं। यह समूह समग्र रूप से साहित्य और विशेषतः काव्यशास्त्र के प्रचार के लिए समर्पित है। विभिन्न संस्कृतियों और समाज के विभिन्न वर्गों से जुड़े साहित्यकारों को एक मंच पर लाना और एक विशाल परिवार के रूप में उन्हें जोड़ कर रचनात्मकता की नई पराकाष्ठा को परिभाषित करना ही “रेल्म ऑफ पोयम्स” समूह का एकमात्र ध्येय है। जीवन‌ के रहस्यों को सुलझाने की मृगतृष्णा में फंसा मानव मन भावनाओं और संवेदनाओं से सदैव ही अभिभूत रहता है। कविता इन कोमल अनुभूतियों की सरलतम अभिव्यक्ति है। ऐसे ही उदात्त भावों की कलात्मक अभिव्यंजनाओं का संग्रह है ‘मीमांसा’। काव्य साहित्य के सुंदरतम रूपों को दर्शाता, रुचिर काव्य विधाओं में सजा हुआ, काव्य अंतर्दृष्टि से नवीन विचारों को प्रस्फुटित करता कविताओं का यह संकलन हर साहित्य प्रेमी के लिए अमूल्य है।

Product Details

ISBN: 978-9390446643
Size: 5.5×8.5
Format: Hardback
Pages: 234
Language: Hindi
Genre: Fiction-Poetry
Mrp:

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Mimansa – 2”

Your email address will not be published.